Uttarakhand: इन नेताओं के चुनाव लड़ने पर चुनाव आयोग ने लगाई रोक, जानें क्यों

Election Commission

देहरादून, 10 जनवरी: उत्तराखंड (Uttarakhand) के 18 नेताओं के विधायक बनने के सपने पर चुनाव आयोग ने पानी फेर दिया है। जी हां..भारत निर्वाचन आयोग ने उत्ताखंड के 18 नेताओं के आगामी विधानसभा चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगाया है। इतना ही नहीं, जिन नेताओं पर ये प्रतिबंध लगाया गया है उसकी लिस्ट भी जारी कर दी है।

बता दें, पिछले चुनाव का खर्च विवरण न दे पाने के कारण भारत निर्वाचन आयोग ने यह प्रतिबंध Uttarakhand के नेताओं पर लगाया है। जानकारी के मुताबिक, आयोग ने इन नेताओं के 07 जनवरी 2023 तक के लिए चुनाव लड़ने से प्रतिबंधित कर दिया है। आयोग ने इन नेताओं के नामों की लिस्ट सभी रिटर्निग अधिकारियों को भी भेज दी है।

इन नामों में जयप्रकाश उपाध्याय, मधुशाह, गौतम सिंह बिष्ट, विनोद प्रसाद नौटियाल ( सभी देहरादून), राजेंद्र सिंह भंडारी (पौड़ी), सुंदर धौनी (बागेश्वर), बच्ची सिंह, मौ अशरफ़ ( दोनों हरिद्वार) , राजेद्र सिंह (चम्पावत), राजेंद्र सिंह बिष्ट, सुहैल अहमद, विनोद शर्मा, विनय, लाल सिंह, जितेंद्र कुमार, दिनेश कुमार, भुवन जोशी (सभी पिथौरागढ़) का नाम शामिल है।

ये भी पढ़ें:- ब्लैक बिकनी में Sonal Chauhan ने बिखेरा जलवा, Photos देख थम जाएंगी धड़कनें

चुनाव आयोग ने शनिवार 08 जनवरी को उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की घोषणा कर दी है, जिसके बाद से पांच राज्यों में तत्काल प्रभाव से आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। विधानसभा चुनाव में प्रत्याशियों द्वारा खर्च करने वाले चुनाव खर्च की सीमा को भी बढ़ा दिया गया है। चुनाव आयोग के अनुसार, ये सीमा पांच राज्यों उत्तराखंड, पंजाब, गोवा मणिपुर और यूपी में होने वाले विधानसभा चुनावों पर लागू होगी।

ये भी पढ़ें:- ‘प्यार कर’ सॉन्ग पर Poonam Dubey ने किया डांस, वीडियो देख उड़ जाएंगे होश

वॉयस ऑफ इंडिया न्यूज़ के Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें Twitterkooapp और Telegram पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें– Youtube