Home Uttarakhand फर्ज के लिए SI शाहिदा परवीन नहीं बनी दुल्हन, बोलीं- कोरोना को...

फर्ज के लिए SI शाहिदा परवीन नहीं बनी दुल्हन, बोलीं- कोरोना को हराने के बाद ही करूंगी निकाह

ऋषिकेश: देशभर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है. लॉकडाउन को पूरी तरह से सफल बनाने के लिए पुलिसकर्मी भी पूरी शक्ति के साथ ड्यूटी पर मुस्तैद हैं. इस दौरान उत्तराखंड के ऋषिकेश जिले के मुनिकीरेती थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर शाहिदा परवीन ने जिम्मेदारी की ऐसी मिसाल कायम की है जो आने वाली पीढ़ियों के लिए भी नजीर बन जाएगी.

जानकारी के मुताबिक, शाहिदा परवीन की 5 अप्रैल को शादी होनी थी, लेकिन कोरोना में ड्यूटी लगने के चलते शाहिदा ने निकाह की तारीख को स्थगित कर दिया. फिलहाल, वह कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई में ड्यूटी कर रही हैं. एसआई शाहिदा का कहना है कि मेरे लिए मेरा देश और मेरी ड्यूटी सबसे पहले है. उनकी मानें तो इस फैसले से उनके परिवार वालों के अलावा दूल्हे शाहिद शाह का परिवार भी परवीन के साथ खड़ा हैं.

‘…तब तक मैं शादी नहीं करुंगी’
शाहिदा ने बताया कि जब तक कोरोना का खात्मा नहीं हो जाता तब तक मैं शादी नहीं करुंगी. शाहिदा लगातार मुनि की रेती क्षेत्र में क्वारंटाइन हुए लोगों की देखरेख में लगी हुई हैं. वह लगातार अपनी सेवाएं उत्तराखंड पुलिस को दे रही हैं. महिला एसआई के इस जज्बे को देखकर पूरा स्टाफ भी उनकी तारीफ करते हुए नहीं थक रहा है.

ये भी पढ़ें:- लॉकडाउन में शादी करना पड़ा महंगा, दूल्हा-दुल्हन समेत 8 गिरफ्तार

2016 बैट की है इंस्पेक्टर है परवीन
2016 बैच की भर्ती सब इंस्पेक्टर शाहिदा परवीन पुत्री रहीम शाह निवासी कान्हरवाला, भानियावाला देहरादून वर्तमान में मुनिकीरेती थाने में तैनात है. उनका निकाह लक्सर जिला हरिद्वार निवासी शाहिद शाह पुत्र गुलाम साबिर के साथ पांच अप्रैल को तय हुआ था. शाहिद शाह वर्तमान में हरिद्वार रेलवे में टीटीई के पद पर कार्यरत हैं. बता दें, दोनों ही परिवारों ने निकाह की पूरी तैयारी कर ली थी.

ये भी पढ़ें:- लॉकडाउन: पारस के बाद परम ने 30 फीसदी तक घटाए दूध के दाम, जानें नए रेट