6 साल का निष्कासन 13 महीने में खत्म, चैंपियन की BJP में वापसी

देहरादून. उत्तराखंड में बीजेपी ने अपने निष्कासित विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन (Kunwar Pranav Singh) को सोमवार को दोबारा पार्टी में शामिल कर लिया. पार्टी ने उनका 6 साल का निष्कासन 13 महीने में ही ख़त्म कर दिया.

बीजेपी के उत्तराखंड में प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत की मौजूदगी में उनकी घर वापसी हुई. इसकी वजह साल 2022 के विधानसभा चुनाव बताए जा रहे हैं.

गौरतलब है बीजेपी के टिकट साल 2017 में हरिद्वार के खानपुर से कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन (Kunwar Pranav Singh) जीते थे. चैंपियंस अक्सर विवाद में रहते हैं. पिछले साल जुलाई में उनका एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें वो हवा में तमंचा लहराते हुए शराब की बोतल के साथ नाचते नजर आ रहे थे. इस वीडियो में उत्तराखंड को लेकर विवादित टिप्पणी कर रहे थे.

इस वीडियो के वायरस होने के बात पार्टी ने उन्हें 6 साल के लिए बीजेपी की सदस्यता से निलंबित कर दिया था. उन्होंने तब अपने इस बयान के लिए माफ़ी मांगी थी. आपको बता दें कि चैंपियन अब तक चार बार विधायक रह चुके हैं. वो एक बार निर्दलीय, दो बार कांग्रेस से और एक बार बीजेपी से विधायक बने हैं.

साल 2016 में वो उन बागी कांग्रेस विधायकों में थे, जिन्होंने हरीश रावत की अगुवाई वाली सरकार से अपना समर्थन वापस से ले लिया था. कई लोग बीजेपी के इस कदम को आप के उत्तराखंड में चुनाव लड़ने से जोड़ रहे हैं.

गौरतलब है कि आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कुछ दिनों पहले ये ऐलान किया है कि उनकी पार्टी राज्य में सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. संगम विहार से आप विधायक दिनेश मोहनिया उत्तराखंड में आप प्रभारी हैं.

ये भी पढ़ें:- ITBP के जवानों ने बचाई महिला की जान, केजरीवाल ने कही ये बात

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुकटेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.