UP Panchayat elections 2021: पोलिंग पार्टियों में खत्म हुई महिला कर्मियों की अनिवार्यता

UP Panchayat elections 2021

UP Panchayat elections 2021, लखनऊ: राज्य निर्वाचन आयोग ने उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनावों को लेकर इस बार बड़ा कदम उठाया है. दरअसल, निर्वाचन आयोग ने इस बार होने वाले पंचायत चुनाव में मतदान करवाने वाली पोलिंग पार्टी में महिला कार्मिक की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है.

इस बारे में मीडिया को जानकारी देते हुए आयोग के अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा ने कहा, ‘अगर किसी जिले की किसी पंचायत के लिए तय की गयी पोलिंग पार्टी के लिए महिला कार्मिक उपलब्ध नहीं हो पा रही है तो सिर्फ पुरुष कार्मिकों की ही पोलिंग पार्टी मतदान करवाएगी।’

उन्होंने बताया कि अगर किसी मतदान केन्द्र या पोलिंग बूथ पर पर्दानशीं महिला मतदाता आती हैं तो उनकी सुविधा के लिए वहां तैनात पुलिस, होमगार्ड, पीएसी, प्रांतीय रक्षक दल के दस्ते में तैनात महिला कार्मिक की मदद ली जाएगी। कहा कि होली के बाद पोलिंग पार्टियों के लिए हर जिले में कार्मिकों की रैण्डेमाइजेशन से तैनाती शुरू कर दी जाएगी।

अपर निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि आयोग की वेबसाइट पर हर जिले के उप जिला निर्वाचन अधिकारी को आईडी आवंटित की गई। इस आईडी से लॉगिन करते हुए पोलिंग पार्टियों की ड्यूटी लगायी जाएगी। बताया कि इस बार पोलिंग पार्टी में शामिल पीठासीन अधिकारी और तीन मतदान अधिकारियों को एक ही बार प्रशिक्षण दिया जाएगा।

कहा कि उप जिला निर्वाचन अधिकारी ग्रेड पे के हिसाब से पोलिंग पार्टियों के लिए कार्मिकों का चयन करने के लिए वेबसाइट पर आयोग की तरफ से एक टूल उपलब्ध करवाया गया है। अपर निर्वाचन आयोग ने बताया कि आयोग की वेबसाइट पर सभी 75 जिलों के डैशबोर्ड से हर जिले में पोलिंग पार्टी के कार्मिकों की ड्रयूटी लगाए जाने की प्रक्रिया की पूरी निगरानी की जाएगी।

बताया कि चुनाव ड्यूटी से मुक्त करने के लिए हर जिला निर्वाचन अधिकारी को प्रत्येक मामले में आयोग से अनुमति लेनी पड़ेगी।

ये भी पढ़ें:- Fact Check: यूपी के 15 जिलों में कल से लॉकडाउन, जाने वायरल वीडियो का सच

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुकटेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं.