यात्री के जूते तलाशने के लिए RPF जवानों को बहाना पड़ा पसीना, जानिए क्या है पूरा मामला

मथुरा, 19 अगस्त: एक हैरान कर देने वाली खबर उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले से सामने आई है, जिसे सुनकर आप भी चौंक जाएंगे। दरअसल, पंजाब मेल में एक यात्री अपने जूते भूल गया। जिसकी सूचना उसने कंट्रोल रूम को दी। इस सूचना पर आरपीएफ (RPF) जवान यात्री के जूते तलाशने के लिए दौड़ पड़े।

अमर उजाला की खबर के मुताबिक, सुबह 7:58 बजे जब ट्रेन मथुरा जंक्शन पहुंची तो जूते सीट के नीचे रखे मिले। जिन्हें यात्री को सौंप दिया गया है। जानकारी के मुताबिक, करन सिंह नाम का यात्री पंजाब के फिरोजपुर से दिल्ली जाने के लिए पंजाब मेल में सवार हुआ था।

उसका ट्रेन के कोच बी-5 की सीट संख्या 20 पर रिजर्वेशन था। दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन करन सिंह ट्रेन से उतर गया। ट्रेन से उतरने के बाद जब वह स्टेशन से बाहर निकला तो उसे अपने जूतों की याद आई। वह दौड़कर दोबारा प्लेटफार्म पर पहुंचा, लेकिन तब तक ट्रेन वहां से रवाना हो चुकी थी।

हालांकि, यात्री ने पंजाब मेल में जूते छूटने की सूचना कंट्रोल रूम को दी। कंट्रोल रूम ने मथुरा आरपीएफ को सूचना दी कि फिरोजपुर से चलकर मुंबई जाने वाली पंजाब मेल के कोच संख्या बी-5 की सीट संख्या 20 के नीचे करन सिंह नामक यात्री के जूते गलती से छूट गए हैं।

ये भी पढ़ें:- UP: कोरोना काल में 15 करोड़ लोगों को मिला 10 करोड़ कुंतल फ्री राशन

सूचनना मिलने के बाद आरपीएफ प्रभारी निरीक्षक सीबी प्रसाद ने ट्रेन के कोच से यात्री करन सिंह के जूते तलाश करने के निर्देश दिए। जिसके बाद पंजाब मेल मथुरा के जिस प्लेटफॉर्म पर आने वाली थी, उस पर आरपीएफ के दो जवान पहुंच गए।

ट्रेन के स्टेशन पर पहुंचने के बाद आरपीएफ के जवानों ने यात्री द्वारा बताए गए कोच संख्या बी5 की सीट पर देखा तो उसके जूते सीटे के नीचे रखे मिले। आरपीएफ प्रभारी ने बताया कि यात्री के जूते ट्रेन से तलाश कर उसे सौंप दिए गए हैं।

वॉयस ऑफ इंडिया न्यूज़ के Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें Twitterkooapp और Telegram पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें– Youtube