Kannauj: लड़की ने प्रधान पति को मारी गोली, वारदात के पीछे बताई ये वजह

Kannauj Sadar Kotwali

Kannauj, 24 June: 20 जून को एक युवती ने भरी पंचायत में प्रधान पति को गोली मारकर हत्या कर दी। वहीं, इस हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा करते हुए युवती व उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। Kannauj पुलिस गिरफ्त में आई युवती ने हत्याकांड के पीछे चौंकाने वाली वजह बताई है।

दरअसल, पुलिस पूछताछ में युवती ने बताया कि वो प्रधान पति द्वारा आए दिन होनी वाली छेड़छाड़ से अजीज तंग आ गई थी। वो उसके साथ जबरन संबंध बनाना चाहता था, इसलिए उसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया। यह वारदात कन्नौज सदर कोतवाली क्षेत्र के हीरापुरवा गांव की है। गांव निवासी रामश्री जलालपुर अमरा ग्राम पंचायत की नव निर्वाचित प्रधान है।

बीते 20 जून की रात उनके पति रामशरण (50) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक रामशरण के परिजनों ने श्याम बिहारी, हेमचंद्र, बबलू, राहुल व टिंकरी पर पंचायत के दौरान गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराई थी। कोतवाली प्रभारी विकास राय ने बताया कि नामजद पांच में से दो आरोपित श्याम बिहारी व उसका भाई हेमचंद्र के डहलेपुर स्थित बाग में होने की सूचना मिली। दोनों को पकड़ लिया।

पूछताछ में दोनों ने बताया कि गोली गांव के ही संतराम की बेटी सीमा ने चलाई थी। पुलिस ने सीमा को उसके घर से पकड़ लिया। पुलिस का दावा है कि सीमा ने हत्या स्वीकार करते हुए बताया कि रामशरण ने उसका जीना दूभर कर रखा था। उत्पीड़न की इंतहा हो गई थी। इसका बदला लेने के लिए उसने हत्या की। उधर प्रधान के पुत्र दीपक द्वारा दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया गया था कि उसके पिता को एक विवाद के निपटारे के लिए हो रही पंचायत में बुलाया गया था। उसी दौरान दूसरे पक्ष ने गोली मार कर हत्या कर दी।

जबरन बनाना चाहता था संबंध
सदर कोतवाल विकास राय ने बताया कि पूछताछ में युवती ने बताया कि आरोपित श्याम बिहारी से उसका प्रेम-प्रसंग था, लेकिन प्रधान पति रामशरण दोनों की नजदीकियों से चिढ़ता था। युवती ने कहा कि प्रधान पति जबरन उसके साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहता था और वह नहीं चाहता था कि श्याम बिहारी और वह एक-दूसरे से मिलें।

इतना ही नहीं, उसने बताया कि प्रधान पति ने उसकी मझली बहन के साथ गलत काम किया था। इसलिए वह प्रधान पति से नफरत करने लगी थी। ऐसे में श्याम बिहारी ने उसकी हत्या की साजिश रची। वह गोली मारने को तैयार हो गई। प्लान बनाकर पंचायत के लिए बुलाकर उसकी हत्या कर दी।

प्रधान पति पर दर्ज थे आठ मुकदमे
बताया जा रहा है कि मृतक रामशरण का गांव के अलावा आसपास के क्षेत्र में अच्छा दबदबा था। उसके ऊपर सदर कोतवाली में हत्या, लूट, गैंगस्टर व मारपीट के करीब आठ मकदमे दर्ज थे। इतना ही नहीं, उसके ऊपर हरदोई जनपद में भी कई मुकदमे दर्ज थे।

ये भी पढ़ें:- Noida में जल्द चलना शुरू होंगी ई-साइकिल, 60 स्टैंड बनकर तैयार

पांच थे आरोपित, तीन और नाम सामने आए
प्रधानपति की हत्या के बाद पुलिस ने पांच के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी। लेकिन जांच के दौरान तीन और नाम सामने आए हैं। उसे असलहा सप्लाई करने में पटियन निवासी वेदराम और भुप्पा का नाम सामने आया है। पुलिस ने उन सभी के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

वॉयस ऑफ इंडिया न्यूज़ के Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें Twitter, kooapp और Telegram पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें– Youtube