सीएम योगी ने कहा- बुंदेलखंड बनेगा जैविक खेती का रोल मॉडल

लखनऊ. बुंदेलखंड को जौविक खेती का रोल मॉडल बनाने के लिए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को लखनऊ स्थित सरकारी आवास पर एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की. साथ ही उन्होंने चित्रकूट धाम मण्डल के विकास कार्यों की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने मण्डल के सांसद और विधायकों से इसके बारे में चर्चा भी की. उन्होंने कहा कि डिफेंस कॉरिडोर और बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के बाद अब चित्रकूट के विकास की और ध्यान दिया जाए.

सीएम ने जिलाधिकारियों से कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा दिए गए प्रस्तावों पर समय से कार्यवाही की जाए और निधियों का सदुपयोग किया जाए. यूपी के सीएम ने कोविड महामारी में पूरी सतर्कता बरतने के साथ-साथ विकास में तेजी लाने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द गांवों में पब्लिक एड्रेस सिस्टम की व्यवस्था की जाए. इस बैठक में उन्होंने महोबा और हमीरपुर के जिला अस्पतालों को और बेहतर बनाने के लिए खनन से प्राप्त राशि का उपयोग करने के लिए भी कहा.

ड्रिप इरिगेशन को बढ़ावा देने तथा बांध बनाकर केन-बेतवा नदियों के जल को सिंचाई के लिए उपयोग में लाने को कहा. इसके साथ ही उन्होंने अन्न प्रथा को खत्म करने और गोवंश की नस्लों को सुधारने पर भी जोर दिया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जीरो बजट खेती को प्रोत्साहित करने के भी निर्देश दिए. जिससे ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा मिले ही साथ ही किसानों की आय भी बढ़े और खेती की लागत में भी कमीं आए.

योगी ने कहा कि डिफेंस कॉरिडोर परियोजना से स्थानीय युवाओं को रोजगार मिलेगा. वहीं जनपद चित्रकूट में पर्यटन की संभावनाएं बढ़ेंगी. इसके लिए उन्होंने पर्यटन विकास को आगे बढ़ाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने सभी विकास कार्यों को समय पर और गुणवत्ता के साथ पूरा करने के लिए कहा. जिससे लागत में भी कमीं आए. योगी ने सभी अधिकारियों को फिल्ट विजिट के लिए भी कहा. चित्रकूट धाम मण्डल में पाइप पेयजल योजनाओं को समय पर निर्देश देते हुए कहा कि शुद्ध पीने का पानी बहुत ही आवश्यक है. इसलिए जल संरक्षण को बढ़ावा देते हुए बुंदेलखंड क्षेत्र में पुराने तालाबों के जीर्णोद्धार की कार्ययोजना को तैयार करने के लिए कहा है.

इस समीक्षा बैठक में बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे और अमृत योजना के अन्तर्गत चित्रकूट मण्डल में होने वाले कार्य को समय पर पूरा करने के निर्देश देते हुए राजापुर-लालापुर को सड़क से जोड़ने का भी निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि यह गोस्वामी तुलसीदास व महर्षि वाल्मीकि का स्थल है.जल जीवन मिशन के अन्तर्गत आने वाले सभी कार्यों को जल्द पूरा किया जाए जिससे सभी लोगो को शुद्ध पीने का पीनी मिल सके.

ये भी पढ़ें:- UP में सभी भर्ती परिक्षा कराएगी एक ही एजेंसी, सीएम योगी ने दिए निर्देश

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक, टेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.