UP में विधानसभा की चार सीटें हुई रिक्त, जल्द होंगे उपचुनाव

लखनऊ: बुलंदशहर सदर सीट से भारतीय जनता पार्टी के विधायक वीरेंद्र सिंह सिरोही के निधन के साथ ही उत्तर प्रदेश में अब विधानसभा की चार सीटें रिक्त हो गई हैं. इन सीटों पर जल्दी ही उपचुनाव का ऐलान हो सकता है. इसके लिए तैयारी भी शुरू हो गई है. यह सीटें है- बुलंदशहर सदर, बांगरमऊ, रामपुर की स्वार और टूंडला.

2022 में भले ही उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने है, लेकिन जल्द ही बुलंदशहर सदर, बांगरमऊ, रामपुर की स्वार और टूंडला सीटों पर उपचुनाव होंगे. माना जा रहा है कि चुनाव आयोग इसकी अधिसूचना भी जल्द जारी कर देगी. बता दें कि इन चारों विधानसभा सीटों के खाली होने के बाद यहां उपचुनाव होने हैं. इनमें फिरोजाबाद जिले में आने वाली टूंडला विधान सभा सीट है. 2017 के विस चुनाव में टूंडला सीट से भाजपा के एस.पी.सिंह बघेल जीते थे. लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव में उनके सांसद बन जाने के बाद से रिक्त चल रही है.

इसके अलावा उन्नाव जिले की बांगरमऊ विधान सभा सीट से 2017 का विस चुनाव जीते भाजपा के कुलदीप सिंह सेंगर को बलात्कार व हत्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा सजा सुनाए जाने के बाद चुनाव आयोग ने सेंगर को अयोग्य घोषित कर दिया था. हाल ही में विधान सभा अध्यक्ष ने सेंगर की विधान सभा सदस्यता भी खत्म कर दी. अब इस खाली सीट पर उपचुनाव होना है.

इसी क्रम में रामपुर की स्वार सीट से 2017 के विस चुनाव में सपा प्रत्याशी के तौर पर अब्दुल्ला आजम चुनाव जीते थे. मगर अपनी जन्मतिथि के दो-दो प्रमाण पत्र बनवाने के मामले में फर्जीवाड़ा साबित होने के बाद अदालत के आदेश पर अब्दुल्ला आजम, उनके पिता आजम खान और मां को भी सजा सुना गयी. इसके बाद विधान सभा अध्यक्ष द्वारा अब्दुल्ला आजम की सदस्यता भी खत्म कर दी गयी. इस तरह से यह सीट भी खाली हो गयी है.

बुलंदशहर से भाजपा के विधायक वीरेन्द्र सिंह सिरोही का देहांत हो गया. इस वजह से अब यह सीट भी खाली हो गयी है. नियमों के तहत इन तीनों सीटों बांगरमऊ, स्वार और बुलंदशहर पर विधान सभा उपचुनाव अगले छह महीने में हो जाना है. इसके लिए राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी कार्यालय में तैयारी भी शुरू हो गयी है. इन विस सीटों से सम्बंधित वोटर लिस्ट के साथ ही पोलिंग पार्टियों के इस्तेमाल में आने वाली सामग्री आदि को तैयार करने का काम शुरू हो गया है. ताकि चुनाव आयोग के निर्देश मिलते ही इन सीटों पर उपचुनाव की प्रक्रिया शुरू कर दी जाए.

ये भी पढ़ें:- मिर्जापुर: किसानों की फसल को पुलिस ने रौंदा, प्रियंका गांधी ने शेयर किया VIDEO