क्या Taj Mahal समेत 100 ऐतिहासिक भवनों को दिया जा रहा है लीज पर, जाने सच्चाई

Fact Check Taj Mahal News

नई दिल्ली: सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक मैसेज तेजी से वायरल हो रहा है. जिसमें कहा गया है मोदी सरकार देश के लगभग 100 ऐतिहासिक भवनों, जिनमें ताजमहल (Taj Mahal) समेत हिमाचल प्रदेश का कांगड़ा महल भी शामिल है को लीज पर देने की तैयारी कर रही है.

वायरल मैसेज में ऐसा दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार ऐतिहासिक भवनों को लीज पर देकर लगभग 25 हजार करोड़ रुपए कमाने की योजना बना रही है. ऐसा मैसेज वायरल होने के बाद राजनीतिक पार्टियों ने ट्वीट कर केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार पर हमला बोला.

दरअसल, ये वायरल मैसेज लोगों को गुमराह करने के लिए सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे मैसेज में दावा किया जा रहा है कि, 25 हजार करोड़ कमाने के लिए ताजमहल (Taj Mahal) सहित 100 विरासत स्थलों को लीज़ पर देगी मोदी सरकार. यह वो लोग कर रहे हैं जिन्होंने कहा था ‘मैं देश नहीं बिकने दूंगा’.

सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे है इस मैसेज पर पीआईवी फैक्ट चेक विंग ने इस पर स्पष्टीकरण दिया है. पीआईबी ने लिखा कि यह दावा फर्जी है. पीआईबी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, Ministry of Culture द्वारा विरासत स्थलों को लीज़ पर देने का ऐसा कोई भी फैसला नहीं लिया गया है.

पीआईबी ने लिखा है कि ऐसे किसी भी मैसेज को सच न मानें। अगर ऐसा कोई संदिग्ध जानकारी मिलती है तो उसकी सत्यता की जांचने के लिए हमसे संपर्क करे. पीआईबी ने इसके लिए एक व्हाट्सएप नंबर 879911259 और मेल आईडी- [email protected] जारी की है.

ये भी पढ़ें:- झूठा निकला किसान अमरेश का Hop Shoots सब्जी उगाने का दावा, 1 लाख रुपए किलो है कीमत

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुकटेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं.