कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने CM त्रिवेंद्र सिंह रावत से की मुलाकात, रखी ये मांग

देहरादून: कोरोना वायरस का संक्रमण भारत ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व तेजी से फैलता जा रहा हैं. कोरोना महामारी की चेन तोड़ने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन घोषित है. लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए सभी राजनीतिक दल अपने मतभेड छोड़कर सरकार का साथ दे रहे हैं. इस कड़ी में उत्तराखंड कांग्रेस ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से कोराना वायरस से बचाव के प्रयासों में सरकार के साथ खड़ा होने की बात कही है.

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से मुलाकात की. इस दौरान प्रतिनिधिमंडल ने प्रयाग समेत देश के विभिन्न राज्यों में फंसे विद्यार्थियों की वापसी सुनिश्चित करने की व्यवस्था करने का सीएम से अनुरोध किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के संक्रमण से निपटने के लिए लॉकडाउन की स्थिति में आमजन को कोई परेशानी न हो, इसके लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है.

प्रतिनिधमंडल ने उनसे कोराना के मद्देनजर उत्पन्न हो रही समस्याओं पर चर्चा की और उन्हें एक आठ सूत्रीय ज्ञापन भी सौंपा. ज्ञापन में कांग्रेस ने कहा कि लॉकडाउन से सबसे अधिक मजदूर और पर्यटन व्यवसायी प्रभावित हुए हैं. इसके साथ ही टैक्सी और मैक्स वाहन चलाने वालों के सामने भी रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है. ऐसे में इन्हें बैंकों की ऋण अदायगी में एक वर्ष की छूट और ब्याज माफ किया जाना चाहिए. साथ ही बेरोजगारी और अन्य समस्याओं को देखते हुए सभी राज्यवासियों के बिजली और पानी के बिल माफ करने की भी मांग की.

प्रतिनिधमंडल ने गन्ना किसानों के लंबित भुगतान के साथ ही ऋण माफ करने की भी मांग की. इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में सेनिटाइजेशन, रबी की फसल की कटाई व मंडी की ढुलाई तक के लिए छूट, निजी स्कूलों द्वारा मांगी जा रही फीस पर रोक, कोरोना यौद्धाओं के लिए 50 लाख का बीमा और सस्ते गल्ले में मिलने वाले खाद्यान्न की मात्र तीन गुना करने की मांग की गई.

मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि फसल कटाई के लिए किसानों को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी. इसमें सुरक्षित शारीरिक दूरी के नियम का ध्यान रखने के साथ ही मास्क की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जा रही है. प्रदेश में स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से भी मास्क तैयार कर वितरण की व्यवस्था की जा रही है. प्रतिनिधमंडल में पूर्व विधायक राजकुमार, कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा के अलावा कांग्रेस नेता अजय सिंह और दीवान सिंह तोमर आदि शामिल थे.

ये भी पढ़ें:- Lockdown के बीच मसूरी की सड़कों पर घूमता दिखा गुलदार, देखें वीडियो