Pithoragarh पहुंचे CM रावत, कहा-पुनर्वास की व्यवस्था की जाएगी

Trivendra Singh Rawat

Pithoragarh News. उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) शुक्रवार को पिथौरागढ़ (Pithoragarh) पहुंचे. यहां उन्होंने आपदा प्रभावित क्षेत्र बंगापानी पहुंचे और राहत शिविरों का निरीक्षण किया. इतना ही नहीं, सीएम ने आपदा प्रभावितों से मिलकर उनकी समस्याएं सुनी.

इस दौरान सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने मृतकों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि दुःख की इस घड़ी में सरकार उनके साथ खड़ी है. उन्होंने शिविर में आपदा प्रभावितों को प्रशासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली.

सीएम ने कहा कि आपदाग्रस्त परिवारों की परिस्थिति उनके कष्ट वह समझ सकते हैं, जो भी प्रभावित हैं, जांच के उपरांत उनकी सुविधा अनुसार उनके पुनर्वास की व्यवस्था सरकार द्वारा की जाएगी. जिलाधिकारी पिथौरागढ़ (DM Pithoragarh) द्वारा इस हेतु प्रस्ताव भेजा जाएगा.

कहा, पूर्व में विस्थापन की नीति नहीं थी अब पुनर्वास हेतु सरकार द्वारा नीति बना दी गई है. इन 2 वर्षों में 350 परिवारों को विस्थापन करने का कार्य भी किया गया. नीति बनने के उपरांत कार्य करने में सुविधा भी मिलेगी. इस दौरान उन्होंने कहा कि आपदा प्रभावित व्यक्ति को रोजगार से जोड़ा जाएगा.

उन्होंने कहा कि आपदा प्रभावितों को मानकों के अनुरूप पूरी मुआवजा राशि दी जाएगी. इस दौरान मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के विकास हेतु विभिन्न घोषणाऐं भी की. जिसमें दारमा घाटी में विभिन्न सड़कों का निर्माण, नगर पालिका धारचूला क्षेत्रान्तर्गत तट बंध निर्माण के 2 करोड़ 50 लाख, सीमांत क्षेत्र की तीनों घाटियों व्यास, दारमा व चैदास में 5 मोबाइल टावर जो भी कंपनी स्थापित करेगी.

इसके लिए राज्य सरकार 40 लाख रुपए वहन करेगी. उन्होंने कहा कि वर्तमान तक क्षेत्र में लगभग 300 सेटेलाइट फोन भी बांटे गए हैं. उन्होंने राजकीय इंटर कॉलेज धारचूला का नाम दानवीर जसुली शोकयानी दताल के नाम रखने की घोषणा की.

इसके अतिरिक्त धारचूला घट काली नदी में सुरक्षा दीवार निर्माण कर बाईपास सड़क का निर्माण, खोतिला के गांव के लिए स्लाइडिंग एरिया में सुरंग का निर्माण या अन्य विकल्पों से रास्ता निर्माण किया जाएगा. इसके अतिरिक्त धारचूला मिनी स्टेडियम में पर्वतारोहण हेतु दीवार का निर्माण किया जाएगा.

मुख्यमंत्री सड़क योजना से 28 करोड़ रुपए से सड़कों का निर्माण, नप्लचु से रोंगकांग तक सड़क का निर्माण व सामुदायिक मंच का निर्माण, तवाघाटलिपुलेख सड़क निर्माण पूर्ण होने के उपरांत गुंजी में टैक्सी स्टैंड का निर्माण किए जाने की घोषणा की.

ये भी पढ़ें:- 21 सितंबर से नहीं खुलेंगे स्कूल, Uttarakhand सरकार ने लिया फैसला

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुकटेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.