नोएडा बॉर्डर: दिल्ली से उत्तर प्रदेश जाने वालों के लिए जरूरी खबर

नोएडा: दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के सभी बॉर्डर 8 जून को खोल दिए गए थे. इसके बावजूद भी दिल्ली के सीमाई इलाकों में आम जनता को जाम से छुटकारा नहीं मिल सका है. शनिवार और रविवार को मिली थोड़ी राहत के बाद एक बार फिर सोमवार को बॉर्डर पर जाम देखने को मिला. बता दें. बॉर्डर सील का मामला सुप्रीम कोर्ट से लेकर गृहमंत्रालय तक पहुंच चुका है.

वर्किंग-डे की वजह से बढ़ा जाम
सोमवार को वर्किंग-डे होने की वजह नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर एक बार फिर भारी ट्रैफिक देखने को मिला. पुलिस सिर्फ जरुरी सेवाओं से जुड़े या मूवमेंट पास वाले लोगों को ही दिल्ली से नोएडा में प्रवेश करने की इजाजत मिल रही हैं. पुलिस मूवमेंट पास के बिना किसी को भी नोएडा में जाने की इजाजत नहीं दे रही है.

वाहनों का लगा रैला
बॉर्डर पर बैरिकेड लगाकर हर वाहन की जांच की जा रही है. ऐसे में नोएडा बॉर्डर, डीएनडी पर वाहनों का रेला लगा गया है. गाड़िया रेंग-रेंग कर चल रह हैं. बता दें, जिन गाड़ियों के पास मूवमेंट पास नहीं है उन्हें यू-दर्न लेने को कहा जा रहा है. वहीं, दूसरी तरफ बॉर्डर पर भारी जाम देखते हुए पुलिस को एक बार फिर दिल्ली-नोएडा बॉर्डर को खोलना पड़ा.

इस बात का जरूर रखे ध्यान
नोएडा और गाजियाबाद से अगर कोई दिल्ली जाना चाहता है तो इस बात का ध्यान जरुर रखे कि जिला प्रशासन एक बार फिर बॉर्डर पर सख्ती बढ़ा दी है. यह सख्ती दिल्ली और गौतमबुद्ध नगर जिले में बढ़ रही कोरोना संक्रमितों की संख्या को देखते हुए बढ़ाई गई है. इस वजह से यूपी पुलिस डीएनडी बॉर्डर पर स्क्रीनिंग कर रही है. ऐसे में दिल्ली को यूपी से जोड़ने वाली कलिन्दीकुंज के पास सड़क पर भी गाड़ियों का लंबा जाम लग गया है.

स्वास्थ विभाग की रिपोर्ट का दिया हवाला
नोएडा जिला प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट का हवाला देते हुए 21 अप्रैल को बॉर्डर सील करने के आदेश जारी किए थे. जिसमें उन्होंने कहा था कि नोएडा में कोरोना के संक्रमण के बढ़ते केसों के लिए दिल्ली जिम्मेदार है. जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और शासन अभी इस बॉर्डर को खोलने को इनकार कर चुके हैं, जिनका कहना है कि यदि बॉर्डर खोला गया तो स्थिति और अधिक बिगड़ सकती है.

ये भी पढ़ें:- शादी करने घर से निकला दूल्हा, पर बीच रास्ते में कोरोना रिपोर्ट लेकर पहुंचे अधिकारी

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुकटेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.