लॉकडाउन तोड़ने वाले 343 लोगों पर FIR, 2.77 लाख रुपए का वसूला गया जुर्माना

बुलंदशहर: देश में लॉकडाउन का आज छठवां दिन है, जिसके चलते लोगों को घरों से बाहर निकलने की इजाजत नहीं है. लोगों को किसी अपरिहार्य परिस्थितियों में ही घर से बाहर निकलने की इजाजत दी गई है. बावजूद इसके बुलंदशहर में अभी भी ऐसे लोगों की कमी नहीं है कि जो मौज-मस्ती के लिए घर से बाहर निकल रहे हैं. संपूर्ण लॉकडाउन के छठवें दिन पुलिस-प्रशासन ने नियमों का उल्लंघन करने वाले 343 एफआईआर दर्ज की है.

एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बुलंदशहर जिले में लॉकडाउन का शत-प्रतिशन अनुपालन सुनिश्चित कराए जाने हेतु समस्त थानाप्रभारियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमणशील रहने के लिए कहा है. साथ ही नियमों का उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध के कार्रवाई करने के निर्देश दिए है. बता दें कि अनावश्यक रूप से अपनी दुकानों-शोरूम को खोलकर बैठने वाले 343 लोगों के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है.

लॉकडाउन तोड़कर सड़क पर आने वाले वाहनों के खिलाफ भी पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने 2331 वाहनों के चालान, 156 वाहन सीज व करीब 2,77,300 रूपए का जुर्माना वसूला है. एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने voinews.in से बात करते हुए बताया कि लॉकडाउन का उल्‍लंघन करने वाले लोगों की धरपकड़ करने के लिए पुलिस ने पूरे प्रदेश में करीब 106 बैजगहों पर बैरिकेटिंग की है. साथ ही आक्समिक सेवाओं के लिए 1329 वाहन परमिट किए गए है.

उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा लगातार आमजन को कोरोना वायरस के संक्रमण की गंभीरत व परिणाम एवं सावधानियों से अवगत कराया जा रहा है. साथ ही जनता से अपेक्षा की जा रही है कि अपने घरों से बाहर न निकले. अत्यन्त अपरिहार्य आवश्यकता की स्थिति में ही घरों से बाहर निकला जाए.

ये भी पढ़ें:- UP में बढ़ी COVID-19 के मरीजों की संख्या, नोएडा और मेरठ में दहशत