बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की खत्म नहीं हुई मुश्किलें, ये है वजह

लखनऊ: बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की अभी मुश्किलें खत्म नहीं हुई है. दरअसल, 14 दिन का क्वारंटाइन पीरियड खत्म होने के बाद लखनऊ पुलिस उनसे पूछताछ करेगी. लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने बताया कि कनिका कपूर के खिलाफ लखनऊ के थाना सरोजिनी नगर में आईपीसी की धारा 188, 269 और 270 के तहत एफआईआर दर्ज है.

कोरोना वायरस से ग्रसित कनिका कपूर बीते 20 मार्च से लखनऊ के एसजीपीजीआई अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती थी. उनकी पांचवी और छठी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद एसजीपीजीआई से डिस्चार्ज कर दिया गया है. हालांकि कनिका को 14 दिनों तक अपने घर में क्वारंटाइन रहना होगा. इस दौरान वह किसी से नहीं मिलेंगी.

बीते दिन कनिका कपूर ने अपने इंस्टाग्राम एकाउंट से पोस्ट शेयर करते हुए कहा था कि उनकी हालत पहले से बेहतर है और वह आशा करती हैं कि उनका अगला कोरोना वायरस टेस्ट नेगिटिव आएगा. इससे पहले संजय गांधी पोस्ट ग्रैजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस के डायरेक्टर डॉक्टर आर.के धीमान बताया कि कनिका कपूर की हाल में फिलहाल सुधार है.

बता दें, कनिका कपूर बीते 9 मार्च को लंदन से लौटी थीं. लेकिन हैरानी की बात ये रही इस दौरान उन्होंने कोई परहेज नहीं किया और तीन से चार पार्टियों का हिस्सा बनीं. कनिका कपूर के साथ इन पार्टियों में संपर्क में आए लोगों पर भी कोरोना का खतरा बढ़ गया. इसके बाद लखनऊ के तीन शहरों को बंद किया गया.

कनिका कपूर पर दर्ज हुई FIR
कनिका कपूर की कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद शहर के सरोजनी नगर पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है. यह प्राथमिकी लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर दर्ज की गई थी. दो अन्य एफआईआर हजरतगंज और महानगर थाने में दर्ज की गई थी.

ये भी पढ़ें:- कनिका कपूर की 6वीं corona रिपोर्ट आई निगेटिव, रहना होगा 14 दिनों तक क्वारंटाइन