Bulandshahr: सीएम Yogi ने जाना विकास योजनाओं का हाल

Bulandshahr News. प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मेरठ मंडल के समस्त जनपदों के विकास कार्यो की समीक्षा की. समीक्षा बैठक के दौरान सीएम योगी ने विभिन्न विकास योजनाओं का हाल जाना. इस दौरान बुलंदशहर (Bulandshahr) के जिलाधिकारी रविंद्र कुमार (Ravindra Kumar) ने विकास कार्य और परिजनों के बारे में विस्तृत जानकारी दी.

बुलंदशहर (Bulandshahr) डीएम रविंद्र कुमार (Ravindra Kumar) जानकारी देते हुए बताया कि, 10 करोड़ से अधिक लागत की 03 परियोजनाओं का निर्माण कार्य कराया जा रहा है. विशेष समेकित विद्यालय 100 छात्र-छात्राओं की शिक्षा हेतु 17.82 करोड़ की लागत से ग्राम कोटा, तहसील सदर में विशेष समेकित माध्यमिक विद्यालय का निर्माण कराया जा रहा है.

इस योजना के अन्तर्गत कुल 11.32 करोड की धनराशि अवमुक्त होना शेष है. तो वहीं, बुलंदशहर (Bulandshahr) नगर में 350 कृषक प्रशिक्षण क्षमता के छात्रावास का निर्माण 19.90 करोड़ की लागत से कराया जा रहा है. इस योजना में अवमुक्त धनराशि रु. 17.81 करोड़ के सापेक्ष अभी तक 8.6 करोड़ व्यय की गई है तथा कार्य की भौतिक प्रगति 55 प्रतिशत पूर्ण कर ली गई है.

बुलंदशहर (Bulandshahr) के ग्राम सौंदा हबीबपुर में राजकीय आईटीआई भवन का निर्माण रु. 13.11 करोड की लागत से कराया जा रहा है. इस योजना में वर्तमान तक रु. 5.24 करोड़ की धनराशि अवमुक्त की जा चुकी है, निर्माण कार्य प्रगति पर है. साथ ही जनपद में 10 करोड की लागत से 05 सड़कों का चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण का कार्य कराया जा रहा है.

जनपद में 37.87 करोड की लागत से जहांगीराबाद-बिबियाना-सोरखा-दौलतपुर मार्ग का चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण का कार्य पूर्ण हो चका है. रु. 12.678 करोड़ की लागत से औरंगाबाद-पवसरा-बागवाला (अन्य जिला मार्ग) के किमी. 01 से 07 तक चौड़ीकरण (3.75 मी. से 7.0 मी.) व सुदृढ़ीकरण का कार्य पूर्ण कर लिया गया है.

37.803 करोड की लागत से अनूपशहर-स्याना-नरसैना भड़कऊ-ऊंचागांव भगवन्तपुर कैनाल पटरी (अ.जि.मा.) कुल 20 किमी. के चौड़ीकरण (3.0 मी. से 7.0 मी. व सुदृढ़ीकरण का कार्य प्रगति पर है जिसकी भौतिक प्रगति 25 प्रतिशत पूर्ण कर ली गई है. तो वहीं, 30.694 करोड़ की लागत से खुर्जा-झाझर मार्ग (अन्य जिला मार्ग) के किमी. 01 से 15.43 तक चौड़ीकरण (3.75 मी0 से 7.0 मी0) व सुदृढ़ीकरण का कार्य प्रगति पर है जिसकी भौतिक प्रगति 30 प्रतिशत पूर्ण कर ली गई है.

27.401 करोड की लागत से पहासू-शिकारपुर मार्ग (अन्य जिला मार्ग) के किमी. 01 से 14 तक चौड़ीकरण (3.75 मी0 से 7.0 मी0) व सुदृढ़ीकरण का कार्य प्रगति पर है. इस योजना हेतु धनराशि रु. 2.7401 करोड़ जुलाई 2020 में प्राप्त होने पर टेण्डर प्रक्रिया प्रचलित है. प्राप्त धनराशि से विद्युत लाइन शिफ्टिंग एवं पेड कटाई का कार्य कराया जा रहा है.

डीएम द्वारा वीसी में जानकारी देते हुए बताया गया कि प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण योजना के अन्तर्गत वर्ष 2019-20 में 124 आवास निर्माण के लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत आवासों का निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया गया है. वर्ष 2020-21 में आवास निर्माण हेतु 103 आवासों का लक्ष्य प्राप्त हुआ है किन्तु वर्ष 2011 की स्थाई पात्रता सूची में पात्र लाभार्थी अवशेष न होने के कारण लक्ष्य 103 आवासों का शासन को सर्मपण कर दिया गया है.

साथ ही प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी योजनान्तर्गत नगर विकास अभिकरण बुलंदशहर को वित्तीय वर्ष 2019-20 में 17768 आवासों का लक्ष्य प्राप्त होने पर माह अगस्त-2020 तक 18780 आवास पूर्ण कर लिए गए हैं. वर्ष 2020-21 हेतु आवास निर्माण का लक्ष्य शासन स्तर से अप्राप्त है. अभी तक 23160 लाभार्थियों का जियो टैग किया जा चुका है जिनको प्रथम किश्त की धनराशि उपलब्ध करायी गई है.

गत वर्ष के सापेक्ष 18780 आवास पूर्ण कर लिए गए हैं जो लक्ष्य का 105 प्रतिशत है.
बुलंदशह विकास प्राधिकरण को वर्ष 2018-19, 2019-20 एवं 2020-21 हेतु 2000 आवासों का लक्ष्य आवंटित किया गया था, परन्तु मांग न होने के कारण विकास प्राधिकरण द्वारा 160 आवासों निर्माण का कार्य कराया जा रहा है. माह अगस्त तक विकास प्राधिकरण द्वारा 155 आवासों का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है, जिनमें से 152 भवनों का आवंटन लाटरी ड्रा के माध्यम से कर दिया गया है.

बताया कि अनुसूचित जाति एवं जनजाति के आवेदक पर्याप्त संख्या में न होने के कारण 08 भवनों का आवंटन शेष है जिनका आवंटन शीघ्र करा दिया जायेगा. नई सड़कों का निर्माण कराये जाने संबंध में वर्ष 2019-20 एवं 2020-21 का कुल लक्ष्य 36 सड़कें (32.12 कि0मी0) के सापेक्ष 18.96 किमी. सड़कों का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है.

मार्गो के निर्माण हेतु बजट आवंटन वर्ष 2020-21 में रु. 5.02 करोड माह अगस्त एवं जुलाई 2020 में प्राप्त हुआ जिसके कारण निर्माण कार्य की गति धीमी रही. वर्तमान में मार्गो के निर्माण का कार्य त्वरित गति से कराया जा रहा है तथा निर्धारित समय सीमा में पूर्ण करा दिया जायेगा. कुल स्वीकृत धनराशि 18.704 करोड़ के सापेक्ष 06.651 धनराशि अवमुक्त किए जाने पर 05.735 करोड धनराशि का व्यय किया गया है.

घर-घर नल योजना के अन्तर्गत जनपद के 1184 ग्रामों में कुल 37262 हैण्डपंप अधिष्ठापित हैं तथा सभी क्रियाशील है. जल निगम द्वारा 08 एवं ग्राम पंचायत द्वारा 73 अनुरक्षणाधीन पाइप पेयजल योजनाएं जनपद में संचालित हैं. ग्राम पंचायत द्वारा अनुरक्षणाधीन पाइप पेयजल योजनाएं 73 हैं जिनमें से 04 ग्राम पंचायतों द्वारा विद्युत बिल जमा न करने के कारण विद्युत विभाग द्वारा कनेक्शन काट दिया है. इस संबंध में विद्युत विभाग से वार्ता करते हुए शीघ्र ही सभी योजनाओं को क्रियाशील करा दिया जायेगा.

जनपद में 06 पाइप पेयजल योजनाएं निर्माणाधीन है जिनमें से 02 परियोजनायें-1-ग्राम चितसौन विख. व तहसील शिकारपुर, 02-ग्राम नारऊ विख. पहासू तहसील शिकारपुर पूर्ण हो चुकी हैं. शेष 04 निर्माणाधीन परियोजनायें 1-ग्राम टुण्डाखेड़ा विख. पहासू तहसील शिकारपुर (40 प्रतिशत पूर्ण), 02 ग्राम सलावतनगर गंगावली विख. बीबीनगर तहसील स्याना (45 प्रतिशत पूर्ण), 03-ग्राम परतापुर, विख. बीबीनगर तहसील स्याना (10 प्रतिशतपूर्ण), 04-ग्राम मंगलपुर हौसला वि0ख0 ऊचागांव तहसील स्याना (07 प्रतिशत पूर्ण) निर्माणाधीन हैं जो अप्रैल, 2021 तक पूर्ण करा ली जाएंगी.

ये भी पढ़ें:- Priya ने बुलंदशहर का नाम किया रोशन, बताई सफलता की कहानी

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक, टेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.