दूल्हा-दुल्हन ने फेस शील्ड पहनकर की शादी, शामिल हुए महज 10 बाराती

कानपुर. कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी और लॉकडाउन के चलते आम जनजीवन में काफी बदलाव आए हैं. लोगो बिना वजह घरों से बाहर निकले से बच रहे है, साथ ही सफा-सफाई का भी पहले से ज्यादा ध्यान रख रहे है. कोरोना वायरस और लॉकडाउन का असर शादी समारोहों पर भी पड़ा है.

लॉकडाउन के चलते शादियों में होने वाले फिजूल खर्चे और विवादों पर भी लगाम लगी है. इसका ताजा उदाहरण कानपुर जिले में रविवार को देखने को मिला. यहां सिख समुदाय के दो परिवारों ने भारत सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए अपने बेटे व बेटी की शादी की.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस दौरान दूल्हे व दुल्हन ने मास्क के अलावा फेस शील्ड पहनकर एक दूसरे को वरमाला पहनाई. इससे पहले वरमाला व अन्य साज-ओ-सामान को सैनिटाइज किया गया था. समारोह में दोनों पक्षों की ओर से महज पांच-पांच बाराती शामिल हुए. उन लोगों ने भारत सरकार की गाइड लाइन का अनुपालन किया.

दूल्हे नारायण नारंग ने बताया कि, शादी की तारीख पहले से तय थी. इसलिए हमने कानपुर के जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंत देव तिवारी से इस शादी समारोह की अनुमति ली. समारोह गुरुद्वारे में संपन्न हुआ. हर किसी ने सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखी और चेहरे को मास्क व शील्ड से कवर कर रखा था.

दुल्हन बोली- मैंने कभी नहीं सोचा था ऐसी होगा विवाह
वहीं, दुल्हन अदिति इस शादी को लेकर काफी खुश नजर आईं. उन्होंने कहा- मैंने कभी सोचा नहीं था कि मेरी शादी लॉकडाउन के दौरान होगी. दूल्हे की बहन रिचा ने कहा- समारोह के दौरान परिवार के प्रत्येक पक्ष से केवल पांच सदस्यों ने शादी समारोह में हिस्सा लिया.

ये भी पढ़ें:- पूनम पांडे को पुलिस ने किया गिरफ्तार, लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर हुई कार्रवाई

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक, टेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.