लॉकडाउन पर सख्त हुई यूपी सरकार, पैदल चलने वालों पर भी रोक

लखनऊ: लॉकडाउन का आज सातवां दिन है, लेकिन उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. ऐसे में यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अब कड़ा रुख अपना लिया है. प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि लॉकडाउन में अब पैदल चलने वालों पर भी करवाई होगी.

दरअसल, मंगलवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाईलेवल मीटिंग की. इस दौरान उन्होंने कई निर्देश दिए. सीएम ने कहा कि सरकार के पास उन लोगों का पूरा आंकड़ा मौजूद हैं, जिन्हें उत्तर प्रदेश की सीमाओं से प्रदेश के अंदर अलग-अलग हिस्सों में भेजा गया है. इन सभी लोगों को हर हाल में चिन्हित कर लिया जाए और इनको क्वारेंटाइन रखा जाए.

वहीं, दूसरी और दिल्ली से तब्लीगी जमात में शामिल होने वाले के प्रदेश में प्रवेश करने से हालात बेकाबू होने को है. इस स्थिति में प्रदेश सरकार ने सख्ती बढ़ा दी है. प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने मीडिया से बताया कि अब लॉकडाउन का सौ प्रतिशत पालन होगा. अब तो पैदल चलने वालों पर भी करवाई होगी. ऐसे लोगों को तुरंत क्वॉरेंटाइन किया जाएगा.

उन्होंने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि कोई भी अब सड़क के किनारे पैदल भी जाता दिखे तो उनको पास के आश्रयकेंद्र में भेजकर क्वारंटाइन किया जाए. उनकी जांच के बाद उनको आश्रयगृह में रखा जाए. 14 अप्रैल तक उनको कहीं भी न जाने दिया जाये. सभी जिलों को लॉकडाउन का कड़ाई से पालन करने का निर्देश जारी. बता दें कि मेडिकल इमरजेंसी काम के सिवाय घर से बाहर निकलने पर रोक लगाई गई है.

ये भी पढ़ें:- UP में बढ़ी COVID-19 के मरीजों की संख्या, नोएडा और मेरठ में दहशत