लॉकडाउन में गरीबों के लिए मसीहा बने सोनू सूद, जानिए कितनी संपत्ति के है मालिक

नई दिल्ली. बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) इन दिनों प्रवासी श्रमिकों के लिए सिर्फ एक हीरों नहीं बल्कि मसीहा बन गए हैं. दरअसल, कोरोना वायरस के माहौल में लॉकडाउन की वजह महाराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों में फंसे श्रमिकों को खाने-पीने की पूरी व्यवस्था के साथ बसों का इंतजाम कर उन्हें अपने-अपने घर की ओर रवाना कर रहे हैं.

लोग ट्विटर के जरिए भी सोनू सूद से सहायता मांग रहे हैं और सोनू ऐसे सभी ट्वीट पर ऐक्शन भी ले रहे हैं. सोशल मीडिया पर लोग सोनू सूद को मजदूरों के लिए फरिश्ता बताते हुए उनकी जमकर तारीफ भी कर रहे हैं. आइए जानते हैं कि मुश्किल घड़ी में इन प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बने सोनू सूद कितनी संपत्ति के मालिक हैं.

1999 से अपने करियर की शुरुआत करने वाले सोन सूद फिल्मों के अलावा विज्ञापनों के जरिए भी कमाई करते हैं. रिपब्लिक वर्ल्ड की खबर के मुताबिक, सोन सूद करीब 130.339 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक हैं. सोनू सूद का घर मुंबई के अंधेरी वेस्ट में स्थित लोखंडवाला के यमुना नगर में है.

बता दें, सोनू सूद इंडस्‍ट्री के पहले ऐसे ऐक्‍टर हैं जो प्रवासी मजदूरों को घर भेजने के लिए परिवहन की व्यवस्था कर रहे हैं. प्रवासी श्रमिकों के लिए बसों की व्यवस्था करने के अलावा सोनू सूद ने पिछले दिनों जुहू में बने अपने होटल में डॉक्टरों, नर्सों और पैरा मेडिकल स्टाफ सहित स्वास्थ्य कर्मियों के लिए ठहरने की व्यवस्था भी की थी.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की चेन तोड़ने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 मार्च को देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की थी. जिसके बाद लॉकडाउन धीरे-धीरे बढ़ाता चला गया. जिसके चलते बड़ी संख्या में लोगों के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया.

इसके बाद प्रवासी मजदूर पैदल ही अपने-अपने घरों के लिए निकल पड़े थे. ऐसे मुश्किल हालात में सोनू सूद ने प्रवासी मजदूरों के लिए बसों की व्यवस्था की और उन्हें उनके घर भेजना शुरू किया. बसों की व्यवस्था करते हुए सोनू सूद ने कहा कि मेरा मानना है कि वर्तमान समय में जब हम सभी इस वैश्विक स्वास्थ्य आपदा का सामना कर रहे हैं तो प्रत्येक भारतीय को अपने परिवार और प्रियजनों के साथ रहना चाहिए और वह इसका हकदार भी है.

ये भी पढ़ें:- क्या लॉकडाउन तोड़ने के चलते अरेस्ट हुई थी पूनम, VIDEO शेयर कर बोलीं…

VOI News पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक, टेलीग्राम और ट्विटर पर फॉलो करें.